रघुवर ने धनुष को दिया तोड़ लिरिक्स | Raghuvar Ne Dhanush Ko Diya Tod Lyrics

भजन को शेयर जरूर करें-:
Raghuvar Ne Dhanush Ko Diya Tod Lyrics, रघुवर ने धनुष को दिया तोड़ लिरिक्स

रघुवर ने धनुष को दिया तोड़ लिरिक्स (Raghuvar Ne Dhanush Ko Diya Tod Lyrics)

रघुवर ने उठाकर धनुष को दिया तोड़,
जय-जय की झंकार मची है चारों ओर…

धनुष को टूटा सुनके सिया मुस्कुराई,
आके गले में जयमाला पहनाई,
जय माला पहनाकर लोगों ने किया शोर,
जय-जय की झंकार मची है चारों ओर…

धनुष को टूटा सुनकर परशुराम आए,
आके सभा में कड़े वचन सुनाएं,
वचनों को सुनकर के हुई है तोड़फोड़,
जय-जय की झंकार मची है चारों ओर…

राजतिलक सुन कर मात घबराए,
आकर राजा को अपने वचन सुनाएं,
वचनों को सुनकर के हुए हैं बेहोश,
जय-जय की झंकार मची है चारों ओर…

भरत ने पूछा माता राम कहां हैं,
राम कहां है माता लखन कहां हैं,
माता ने बतलाया गए है वन की ओर,
जय-जय की झंकार मची है चारों ओर…

राम जी के अन्य भजन (Ram Bhajan Lyrics)
चाहे राम कहो चाहे श्याम कहोसुनी है तेरी जादूगरी लिरिक्स
झुक जइयो तनक रघुवीर सियाभए प्रगट कृपाला दीनदयाला
रट ले हरि का नाम रे प्राणीमेरे मालिक के दरबार में सब
Ram Ji Ka Bhajan Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: