राम दुलारे हनुमत प्यारे लिरिक्स

भजन को शेयर जरूर करें-:

राम दुलारे हनुमत प्यारे लिरिक्स

राम दुलारे हनुमत प्यारे मन की ज्योत जगाते है,
भगति हम को सिखलाने वे सवयं भगत बन जाते है,
राम दुलारे हनुमत प्यारे मन की ज्योत जगाते है…

अंजनी पुत्र ये बोले हमसे भगति में शक्ति भर ले,
बिना स्वाथ जो करे ध्यान जग में कभी न तू डोले,
राम के हाथ जो पत्थर डूबा हनुमत उसे तराते है,
राम नाम की शक्ति को भगति से अपनी बढ़ाते है,
राम दुलारे हनुमत…

सेवा मन से ऐसी करो शंका न कोई पास रहे,
रावण मन का जले तब ही जब हनुमत साथ रहे,
राम के मुख से निकले जो भी हनुमत उसे निभाते है,
ऐसी भगति देख राम खुद जय हनुमान गाते है,
राम दुलारे हनुमत…

निशल प्रेम से जो भी भगत अपने प्रभु को याद करे,
राम भगत बजरगं बलि निज उसके कष्टों को दूर करे,
एहंकार से दूर बहुत बस राम नाम गुण गाते है,
हनुमान का नाम सभी श्री राम के साथ बुलाते है,
राम दुलारे हनुमत…

हनुमान जी के अन्य भजन (Hanuman Bhajan Lyrics)
बालाजी बालाजी मोहे राम मिला दोमेहंदीपुर के बालाजी मैं तेरे दर पे
नाच रहे बजरंग छमा छमइनकी महिमा निराली है
सुंदरकाण्ड का पाठ करोसुंदरकांड पाठ अर्थ सहित
Hanuman Ji Ka Bhajan Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: