कोई आया सखी फुलवरिया में लिरिक्स

भजन को शेयर जरूर करें-:
कोई आया सखी फुलवरिया में लिरिक्स (Koi Aaya Sakhi Phulwariya Mein Lyrics)

कोई आया सखी फुलवरिया में लिरिक्स

कोई आया सखी फुलवरिया में,
जैसे जादू है उनकी नजरिया में,
कोई आया सखी फुलवरिया में,
जैसे जादू है उनकी नजरिया में…

सावला एक है एक गौरा बदन,
देख कर भी ना अब तक भरा मेरा मन,
ऐसा रूप नहीं देखा उमरिया में,
जैसे जादू है उनकी नजरिया में,
कोई आया सखी, फुलवारियों में…

कोई कहता है दशरथ दुलारे है वो,
यज्ञ रक्षा में असुरो को मारे है वो,
तीर बांधे है कसकर कमरिया में,
जैसे जादू है उनकी नजरिया में,
कोई आया सखी, फुलवारियों में…

शादी उनसे होती हर हाल में,
आया करते हमेशा ससुराल में,
नैना डूबे रहते उनकी लेहरिया में,
जैसे जादू है उनकी नजरिया में,
कोई आया सखी, फुलवारियों में…

राम जी के अन्य भजन लिरिक्स (Ram Bhajan Lyrics)
नाथ मुझ अनाथ पर दया कीजिए भजनबोल कागा बोल मेरे राम कब आएंगे
बोल पिंजरे का तोता राम लिरिक्ससिया राम तुम्हारे चरणों में लिरिक्स
राम भजन कर मन लिरिक्सराम कहने का मजा भजन लिरिक्स
Ram Bhajan Lyrics Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: