धर्म कर्म घटता ही जाए लिरिक्स | Dharm Karam Ghatata He Jaye Lyrics

भजन को शेयर जरूर करें-:

धर्म कर्म घटता ही जाए लिरिक्स (Dharm Karam Ghatata He Jaye Lyrics), हनुमान भजन, बजरंगबली भजन, Hanuman Bhajan, Bajrangbali Bhajan !

धर्म कर्म घटता ही जाए लिरिक्स (Dharm Karam Ghatata He Jaye Lyrics)

धर्म कर्म घटता ही जाए डोल रहा ईमान,
धर्म कर्म घटता ही जाए डोल रहा ईमान,
संकट मोचन संकट टालो करो विश्व कल्याण,
जय जय राम सिया राम बोलो राम…

सिया हरण जब हुआ सिया का पता लगाया,
लक्षमण को भी बचाने हेतु संजीवन ले आया,
इंसान के दिल में पनप रहा है देखो एक शैतान,
संकट मोचन संकट टालो करो विश्व कल्याण,
जय जय राम सिया राम बोलो राम…

राम की मुश्किल आसान करदी तुमने हर एक बार,
श्री राम का काम हर बार किया सहज स्वीकार,
इधर उधर चहु और लोग सब होने लगे बेई मान,
संकट मोचन संकट टालो करो विश्व कल्याण,
जय जय राम सिया राम बोलो राम…

लंका जला के बजरंग ने बल अपना दिखाया,
रावण को बल पे गर्व था तूने गर्व मिटाया,
बुरे का होता पतन सदा और सच्चे का उत्थान,
संकट मोचन संकट टालो करो विश्व कल्याण,
जय जय राम सिया राम बोलो राम…

धर्म कर्म घटता ही, जाए डोल रहा ईमान,
धर्म कर्म घटता ही, जाए डोल रहा ईमान,
संकट मोचन संकट टालो करो विश्व कल्याण,
जय जय राम सिया राम बोलो राम…

हनुमान जी के अन्य भजन (Hanuman Bhajan Lyrics)
मने बाबा प्यारा लागे बैठा लाल लंगोटवाह रे वाह मेरे बालाजी लिरिक्स
माँ अंजनी के लाल थोड़ा ध्यानदेवो में देव ऐसे वीर हनुमान
संजीवन लेकर आ जाइयोदीवाने श्री राम के दीवाने
Hanuman Bhajan Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: