आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया लिरिक्स

भजन को शेयर जरूर करें-:
आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया लिरिक्स (Aaj Mithila Nagariya Nihal Sakhiya Lyrics)

आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया लिरिक्स

आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया,
चारो दूल्हा में बड़का कमाल सखिया…

शेषमणि मोरिया कुंडल सोहे कनवा,
कारी कारी कजरारी जुल्मी नयनवा,
लाल चंदन सोहे इनके भाल सखियां,
चारों दूल्हा में बड़का कमाल सखिया…

श्यामल श्यामल गोरे-गोरे जुड़िया जहान रे,
अखियां ने देख लीनी सुन लीना कान रे,
जुग जुग जीवे जोड़ी बेमिसाल सखिया,
चारों दूल्हा में बड़का कमाल सखिया…

गगन मगन आज मगन धरतिया,
देखि देखि दूल्हा के सांवर सुरतिया,
बाल वृद्ध नर नारी सब बेहाल सखियां,
चारों दूल्हा में बड़का कमाल सखिया…

जेकरा लगि जोगी मुनि जब तप कईले,
सोई आज मिथिला में पाहून बन के आईले,
आज लोढ़ा से सेकाई इनकर गाल सखियां,
चारों दूल्हा में बड़का कमाल सखिया…

आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया,
चारों दूल्हा में बड़का कमाल सखिया…

राम जी के अन्य भजन लिरिक्स (Ram Bhajan Lyrics)
हे राम हे राम जग में साचो तेरो नामहमने आँगन नहीं बुहारा कैसे आयेंगे
और भजले रे भाया और भजलेराम भी मिलेंगे तुझे श्याम भी मिलेंगे
जिसकी लागी रे लगन भगवान मेंकाम होगा वही जिसे चाहोगे राम
Ram Bhajan Lyrics Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: