मन रे जीवन है दिन चार लिरिक्स | Mann Re Jeevan Hai Din Char Lyrics

भजन को शेयर जरूर करें-:

मन रे जीवन है दिन चार लिरिक्स (Mann Re Jeevan Hai Din Char Lyrics) -: राम का सुमिरन कर ले बन्दे, राम जी का भजन, Ram Ji Ka Bhajan, Ram Bhajan Lyrics !

Mann Re Jeevan Hai Din Char Lyrics, मन रे जीवन है दिन चार लिरिक्स

मन रे जीवन है दिन चार लिरिक्स (Mann Re Jeevan Hai Din Char Lyrics)

मन रे जीवन है दिन चार,
राम का सुमिरन कर ले बन्दे,
राम का सुमिरन कर ले बन्दे,
दुनिया में नहीं सार,
जीवन है दिन चार,
मन रे जीवन है दिन चार…

कल परदेस में आया था तू,
लौट तुझे घर जाना है,
कब समझेगा बात ये मनवा,
झूठ को क्युँ सच माना है,
ओ कल परदेस में आया था तू,
लौट तुझे घर जाना है,
कब समझेगा बात ये मनवा,
झूठ को क्युँ सच माना है,
प्राण का पंछी खोल उड़ेगा,
प्राण का पंछी खोल उड़ेगा,
तन पिंजरे का द्वार,
जीवन है दिन चार,
मन रे, जीवन है दिन चार…

जिसके पीछे भागे वो है साया,
हाथ न आएगा,
इतराएं करनी पे लेकिन,
अंत समय पछताएगा,
ओ जिसके पीछे भागे वो है साया,
हाथ न आएगा,
इतराएं करनी पे लेकिन,
अंत समय पछताएगा,
काहे सर पे लिए फिरे तू,
काहे सर पे लिए फिरे तू,
जनम जनम का भार,
जीवन है दिन चार,
मन रे, जीवन है दिन चार…

दुनिया एक मुसाफिरखाना,
हर चेहरा लगता बेगाना,
जिसे बुलावा आ जाएगा,
छोड़ जगत उसको है जाना,
ओ दुनिया एक मुसाफिरखाना,
हर चेहरा लगता बेगाना,
जिसे बुलावा आ जाएगा,
छोड़ जगत उसको है जाना,
राम बिना नहीं कर पाएगा,
राम बिना नहीं कर पाएगा,
ये भवसागर पार,
जीवन है दिन चार,
मन रे जीवन है दिन चार…

राम का सुमिरन कर ले बन्दे,
राम का सुमिरन कर ले बन्दे,
दुनिया में नहीं सार,
जीवन है दिन चार,
मन रे जीवन है दिन चार…

राम जी के अन्य भजन (Ram Bhajan Lyrics)
राम आ जाणगें फेरा पा जाणगेमेरा राम जपन नू जी करदा
लिख दो मेरे रोम रोम में रामभर लाई गगरिया राम रस की
राम कुछ करो ऐसा फिर तेरीराम रस जिसने भी पिया लिरिक्स
Ram Bhajan Lyrics Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: