जगदंबे मां से पूछना लिरिक्स | Jagdambey Maa Se Puchna Lyrics

भजन को शेयर जरूर करें-:
Jagdambey Maa Se Puchna Lyrics, जगदंबे मां से पूछना लिरिक्स

जगदंबे मां से पूछना लिरिक्स (Jagdambey Maa Se Puchna Lyrics)

मेरी अंबे मां से पूछना, जगदंबे मां से पूछना,
तेरा भवन है कितनी दूर,
छाले पड़ गए पांव में…

मैया कोयल कू कू बोल रही,
और पपीहा मचाए रहे शोर,
छाले पड़ गए पांव में,
मेरी अंबे मां से पूछना…

मैया रिमझिम बरसा हो रही,
और छाई घटा घनघोर,
छाले पड़ गए पांव में,
मेरी अंबे मां से पूछना…

मैया छतर नारियल भेंट चढ़ाऊं,
तेरी ज्योत जलाऊं सुबह शाम,
छाले पड़ गए पांव में,
मेरी अंबे मां से पूछना…

मैया हलवा छोले का भोग लगाऊ,
तेरा भंडारा कराऊं हर साल,
छाले पड़ गए पांव में,
मेरी अंबे मां से पूछना…

मैया दिल में लगन तेरे नाम की,
मोहे दर्श करा दे एक बार,
छाले पड़ गए पांव में,
मेरी अंबे मां से पूछना…

माता रानी के अन्य भजन लिरिक्स (Mata Rani Bhajan)
शेरावाली ओ मेरी मैया लिरिक्समाँ की लहरायेगी चुनरिया लिरिक्स
चलो दर मैया के लिरिक्सआया तेरे दर सहारा देदे दातिये
मेरी मैया तेरे गुण गावामाँ के दर्शन से होता बेड़ा पार
Devi Maa Bhajan Lyrics Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: