जप जप के सीता राम लिरिक्स | Jap Jap Ke Sita Ram Lyrics

भजन को शेयर जरूर करें-:
Jap Jap Ke Sita Ram Lyrics, जप जप के सीता राम लिरिक्स

जप जप के सीता राम लिरिक्स (Jap Jap Ke Sita Ram Lyrics)

जप जप के सीता राम मेरा काम हो गया,
तुम नाम था मशहुर मेरा नाम हो गया,
जप जप, के सीता राम…

जिस दिन से चड़ा नाम का सचा नशा मुझे
झुक कर सलाम करने बादशाह मुझे,
जब से मैं सीता राम का गुलाम हो गया,
जप जप, के सीता राम…

मंदिर में मन के रख के शवि सीता राम की,
सची लगन से प्राथना जब सुबह शाम की,
मन मेरा सीता राम जी का धाम हो गया
जप जप, के सीता राम…

मैं रीत तक्लक है अब जो मीत देखलो,
आराधना का फल ये चरनजीत देख लो,
कल क्या था और आज क्या मुकाम हो गया,
जप जप, के सीता राम…

राम जी के अन्य भजन (Ram Bhajan Lyrics)
सीता राम के प्यारे पवन कुमारराम आवे अयोध्या की और
अवध में राम लला आये हैराम के नाम भरोसे चलना
ओ संतो सुरगा सो आगियो रेबजाये राम नाम की ताली
Ram Ji Ka Bhajan Video !

अन्य भजन के लिए लॉगिन करें – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: