घर जोत जगी महारानी की लिरिक्स

भजन को शेयर जरूर करें-:
घर जोत जगी महारानी की लिरिक्स (Ghar Jot Jagi Maharani Ki Lyrics)

घर जोत जगी महारानी की लिरिक्स

घर जोत जगी महारानी की,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदो नचना,
अज कृपा होई वरदानी की,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदोनचना…

मुदतां दे बाद घड़ी खुशियाँ दी आई ऐ,
घर साड़े मेहरां वाली मेहर वरसाई ऐ,
अज कृपा होई वरदानी की,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदो नचना…

खोल के भंडारे बेठी दाती सारे जग दी,
वंड़दी मुरादा देखो किनी चंगी लगदी,
छाल चली नहिंओ जानदी वरदानी दी,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदो नचना…

दातिऐ जे आई ऐ ते हुन ऐथो जाई ना,
बच्चेयाँ दे नाल तू विछोड़ा कदे पाई ना,
चंचल रख लाज निमाणी दी,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदो नचना…

घर जोत जगी, महारानी की,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदोनचना,
अज कृपा होई वरदानी की,
अज नहीं जे नचना ते फेर कदोनचना…

माता रानी के अन्य भजन लिरिक्स (Mata Rani Bhajan)
मेरी पूजा कर स्वीकार माँ लिरिक्सबेटा बुलाए झट दौड़ी चली आए माँ
मेरी दाती सब ते मेहर करे लिरिक्सअसी तेरे चरना च रहना माँ लिरिक्स
Devi Maa Bhajan Lyrics Video !

For More Bhajan Login – hindibhajanlyrics.in

भजन को शेयर जरूर करें-: